ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
स्टार भारत पर देखें धारावाहिक कार्तिक पूर्णिमा
February 12, 2020 • Vijay sharma
कार्तिक पर जल्द चढ़ेगा पूर्णिमा के प्यार का रंग
भोपाल। आज के जागरूक माहौल में भी त्वचा के रंग के आधार पर बहत भेदभाव किया जाता हैअगर आप गोरे हैं, तो आप बेहद खूबसूरत हैं और अगर आप साँवली रंगत वाले हैं. तो आपकी सारी खबियों को नजरअंदाज़ कर, आपके साँवलेपन को आपकी सबसे बड़ी कमी करार दे दिया जाता है। लेकिन वास्तव में किसी की खबसरती गोरे या काले रंग से नहीं. बल्कि उसकी अंदरूनी खूबियों से होती है और किसी के रंग से प्रभावित न होकर, उसके जीने के ढंग से प्यार करने वाले लोग भी दुनिया में मौजूद हैं।
स्टार भारत एक ऐसी ही दिल को लेने वाली खूबसूरत कहानी 'कार्तिक पूर्णिमा' लेकर आया है। यह कहानी है अमृतसर में रहने वाली 'पूर्णिमा' की है, जिसका रंग भले ही साँवला है पर उसका मन उतना ही साफ़ हैपूर्णिमा को लगता है कि उसका साँवला रंग उसकी माँ का आशीर्वाद है और उसे अपनी साँवली रंगत पर कोई अफ़सोस नहीं है, लेकिन पूर्णिमा की सौतेली माँ और बहन के अलावा भी समाज के कई लोग उसके रंग को लेकर उसे ताने मारते रहते हैं। इन सभी तनावों से जूझते हुए भी पूर्णिमा अपने आत्मविश्वास पर अडिग रहती है। इसी बीच उसकी ज़िंदगी में आता है 'कार्तिक', जो पूर्णिमा के रंग पर नहीं, उसके जीने के ढंग पर मर मिटता हैवो पूर्णिमा को उसी रूप में स्वीकार करता है, जैसी वो है। कार्तिक और पूर्णिमा का प्यार परवान चढ़ता है। पर दरअसल मुसीबतें तो तब शुरू होती है जब यह दोनों शादी कर लेते हैं। कार्तिक की माँ को साँवले रंग वालों से सख़्त नफऱत है। ऐसे में अपनी ही बहू को इस रूप में स्वीकार करना उनके लिए नामुमकिन हो जाता है। अपनी सास का दिल जीतने की कोशिश से शुरू होती है पूर्णिमा की असली लड़ाई। आखऱि कैसे लड़ पाती है पूर्णिमा यह लड़ाई? क्या वो अपने आत्मविश्वास और प्यार की ताक़त से कार्तिक की माँ के दिल में जगह बना पाती है? क्या रंगभेद करने वाले इस समाज को वह मुंहतोड़ जवाब दे पाती है? जानने के लिए देखिए साँवली सलोनी पूर्णिमा और असली खूबसूरती को पहचानने वाले कार्तिक के प्यार की कहानी कार्तिक पूर्णिमा सिर्फ़ स्टार भारत पर।