ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
स्वास्थ्य मंत्री ने स्मार्ट सिटी स्थित इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का किया अवलोकन
August 5, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

होम क्वॉरेंटाइन किए हुए मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराएं
 
भोपाल । प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी ने आज स्मार्ट सिटी स्थित कंट्रोल रूम और आईटीएम (इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम) का अवलोकन किया।

मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा की क्वॉरेंटाइन किए हुए सभी मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। क्वॉरेंटाइन और होम आईसोलेशन किये मरीजों को टेलीफोन और वीडियो काल, वेब केम के माध्यम से स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं उपलब्ध कराएं जिससे वे शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकें। उन्होंने कहा की प्राप्त शिकायतों और होम आईसोलेशन किये मरीजों को समुचित सुविधा उपलब्ध कराएं।स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने निरीक्षण के दौरान सभी चिकित्सकों से कहा है कि स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया जाए। बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं और बुनियादी चिकित्सा से ही हम संक्रमित व्यक्ति को स्वस्थ कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मरीजों को स्वास्थ्य परामर्श उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सकों द्वारा प्रतिदिन 24 घंटे सेवाएं उन्हें प्रदान की जाए।इस मौके पर प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री फ़ैज़ अहमद किदवई, आयुक्त नगर निगम श्री वीएस कोलसानी एवं अपर कलेक्टर श्री उमराव मरावी साथ रहे

कंट्रोल रूम से वेब-कैम वीडियो काल के माध्यम से मरीजों का जाना कुशल क्षेम

स्मार्ट सिटी कंट्रोल रूम से वेबकैम के माध्यम से मंत्री डॉ.चौधरी ने होम क्वॉरेंटाइन आइसोलेशन किए हुए मरीजों से सीधे संवाद किया। उन्होंने उनका कुशलक्षेम जाना और स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं और उनकी समस्याओं की जानकारी ली तथा उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी की।

स्मार्ट सिटी कंट्रोल रूम स्थित (आईटीएम) इंटीग्रेटेड ट्रेफिक मैनेजमेंट सिस्टम का भी अवलोकन किया

मंत्री डॉ. चौधरी ने आईटीएम इंटीग्रेटेड ट्रैफ़िक मैनेजमेंट सिस्टम का भी अवलोकन किया। उन्होंने निर्देश दिए कि चौराहों पर कैमरों के माध्यम से आम लोगों को मास्क अनिवार्य रूप से पहनने की समझाइश दी जाए। घरों से बाहर नहीं निकलने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की समझाइश दी जाए। प्रभारी कंट्रोल रूम अधिकारी ने बताया की शहर के मुख्य चौराहों पर 30 कैमरे लगाए गए हैं जिससे ट्रैफिक मैनेजमेंट और आमजनों को मास्क लागने की समझाइश भी ऑडियो के माध्यम से दी जाती है।