ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
स्वच्छता पखवाड़ा कार्यक्रम में ग्रामीणों को कर रहे शुद्ध पेयजल के प्रति जागरूक
October 6, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल । लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा 25 सितंबर से 10 अक्टूबर तक पेयजल परीक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत जिला स्तर पर गठित टीम जिस में विशेष रूप से जिला सलाहकार व ब्लॉक समन्वयक द्वारा जिले के विभिन्न ग्रामों में भ्रमण किया जा रहा है जिसके अंतर्गत जल स्त्रोतों का परीक्षण व प्रशिक्षण एफ.टी.के. किट के 

माध्यम से करा कर पंचायत प्रतिनिधि ,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल का महत्व उपयोगिता व रखरखाव तथा दूषित पानी की वजह से होने वाली विभिन्न बीमारियों के बारे में भी बताया जा रहा है लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा खंड व उपखंड स्तर पर भी प्रयोगशाला में स्थापित हैं जहां पानी की भौतिक रसायनिक व जीवाणु परीक्षण किया जाता है सामान्य तौर पर पानी की 14 प्रकार की जांच की जाती हैं पानी में पी एच क्लोराइड नाइट्रेट कैल्शियम आयरन समेत कई तत्व निर्धारित मात्रा में होते हैं जिसकी कम या अधिक मात्रा पानी को प्रदूषित व हानिकारक बनाती है वही टीम के द्वारा ग्रामीणों को बताया जा रहा है कि शुद्ध पेयजल व स्वच्छता अपनाई जाए तो लोग बहुत कम बीमारियां जैसे हैजा पीलिया टाइफाइड आदि अन्य जल जनित बीमारियों को रोका जा सकता है वही जल जीवन मिशन के अंतर्गत सभी नल जल योजना वाली पंचायतों में पेयजल स्वच्छता तदर्थ समिति के माध्यम से ही संचालन संधारण कराया जाएगा इसके लिए प्रति ग्राम से 4 4 लोगों को प्लंबर इलेक्ट्रिशियन मेशन व पेयजल ऑपरेटर के रूप में चयनित कर उन्हें प्रशिक्षित भी कराया जाएगा |