ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
वीडियो कांफ्रेंसिंग से परिचय सम्मेलन आयोजित, दो शादियां तय, 15 की चर्चा शुरू
June 8, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल। ब्राह्मण एकता अस्मिता सहयोग एवं संस्कार मंच द्वारा रविवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सर्व ब्राह्मण समाज का युवक-युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें 2 रिश्ते मौके पर ही तय हो गए। 15 युवाओं की रिश्ते की बात उनके अभिभावकों की चर्चा में है। जो जल्द फाइनल हो जाएगी। विदेशों में रह रहे एनआरआई युवाओं ने भी कांफ्रेसिंग में हिस्सा लिया और संस्कारित, एजुकेटेड वधु को अपनी पसंद बताया। परिचय कांफ्रेंस में जुड़ी लड़कियों में ज्यादातर ने अपनी पसंद नौकरीपेशा तथा बिजनेसमैन को बताया और कहा कि दहेज की बात करने वाले न करें संपर्क। वहीं युवकों ने भी खुलकर बात रखी और संस्कारी पढ़ीलिखी लड़की को जीवन संगनी बनाने अपनी बात बताई। कोरोना की वजह से लोगों ने वीडियो के माध्यम से चर्चा में उत्साह दिखाया। इस कार्यक्रम में अमेरिका, सिंगापुर, वियतनाम और इंडोनेशिया से भी लोग जुड़े। वहीं देश की राजधानी दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र से अभिभावकों और अविवाहित युवक-युवतियों ने संपर्क किया। कुल 264 युवक-युवतियों ने अपना परिचय दिया, जिसमें दो शादियां तय हुई। एक टीलाजमालपुरा निवासी रामनारायण शर्मा की पुत्री दीपा शर्मा का रिश्ता खातेगांव के अभिषेक चौबे के साथ होना तय हुआ है। वहीं दूसरा रिश्ता चिकलोद निवासी विनोद तिवारी की पुत्री पूनम का रिश्ता बेगमगंज के अंशुमान दुबे के साथ होना तय हो गया है। कार्यक्रम में पंडित गोपाल भार्गव (पूर्व नेता प्रतिपक्ष) ने ब्राह्मण समाज द्वारा की गई इस अभिनव पहल की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोना काल में बच्चे-बच्चियों के संबंध तय करने वीडियो कांफ्रेंसिंग सुविधा अच्छा प्लेटफार्म है। अन्य समाजों को भी इसका अनुसरण करना चाहिए। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने कहा कि मंच द्वारा की गई पहल के लिए मैं, मंच के अध्यक्ष पंडित राकेश चतुर्वेदी और उनकी पूरी टीम को बधाई देता हूं। बच्चों के अभिभावकों एवं बच्चों के लिए भी बधाई देता हूं। उत्तम वर-वधु तलाशने में यह कार्य मील का पत्थर साबित होगा। पार्षद गिरीश शर्मा ने कहा कि मंच की यह अनुकरणीय पहल है। निश्चित ही भविष्य में इसके परिणाम समाज में दिखेंगे। उन्होंने कहा कि परिचय सम्मेलन में देश विदेश के युवक-युवतियों ने भाग लिया है, इससे योग्य वर-वधु तलाशने में अभिभावकों को मदद मिलेगी। कार्यक्रम की शुरुआत भगवान परशुराम जी की मूर्ति पर पंडित शंभूनाथ शर्मा द्वारा माल्यार्पण कर किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ.वंदना मिश्रा ने किया। मंच के अध्यक्ष पंडित राकेश चतुर्वेदी ने बताया परिचय सम्मेलन के कोआर्डिनेशन का कार्य सजोली रिछारिया ने किया जिसे समाज द्वारा सराहा गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शिवनारायण शर्मा, विनोद रिछारिया, एलएन शर्मा, राजेश रिछारिया, गोपाल स्वरूप दुबे, संदीप तिवारी, श्रीकांत अवस्थी, रमेश लिटोरिया, अशोक बबेले, रूपनारायण शास्त्री, मुकेश चौबे, सीबी तिवारी, प्रमोद पांडे शैलेंद्र शुक्ला, सुनील शर्मा, वरूणा रिछारिया, संगीता उपाध्याय, ममता दुबे, संध्या मिश्रा, अन्नपूर्णा रावत, अर्पणा दुबे, क्षमा शर्मा आदि जुड़े।