ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
वेसेरेए यूनियन का महंगाई भत्ते को लेकर विरोध, पट्टी बांधकर किया कार्य
April 30, 2020 • Admin

डीए बंद करने से रेल कर्मचारियों में असंतोष 

भोपाल। वेस्ट सेन्ट्रल रेल्वे एम्पलाईज यूनियन ने  तीन मंडलो में महंगाई भत्ते को लेकर कार्य स्थल पर  विरोध स्वरुप मंगलवार से काली पट्टी बांध कर कार्य शुरू कर दिया है।  केंद्र सरकार अपने आदेश को वापस नहीं लेगी तो यूनियन की आगे की रणनीति आंदोलन की तैयारी है। देश में कहीं भूकम्प आये या बाढ़ से तबाही अथवा अन्य कोई प्राकृतिक आपदा प्रदेश सरकार हो अथवा केन्द्र के कर्मचारी स्वेच्छा से एक या दो दिवस का वेतन राहत कोष में जमा करते हैं, बावजूद इसके कोरोना संकट की मार कर्मचारियों पर ही क्यों पड़ रही है। क्योंकि केन्द्र सरकार ने महंगाई भत्ते को फ्रीज कर दिया है। वेस्ट सेन्ट्रल रेल्वे एम्पलाईज यूनियन के मंडल सचिव फिलिप ओमन ने बताया कि यूनियन ने इसी मुद्दे पर मंगलवार से आंदोलन शुरु कर दिया है जिसके अंतर्गत पहले चरण में मंडल के सभी कर्मचारी काली पट्टी बांधकर काम कर रहे हैं।  वेस्ट सेन्ट्रल रेल्वे एम्पलाईज यूनियन के मंडल अध्यक्ष टी. के. गौतम ने बताया कि वेस्ट सेन्ट्रल रेल्वे एम्पलाईज यूनियन के महामंत्री मुकेश गालब ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जोनल कार्यकारिणी की हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। इसमें भोपाल, जबलपुर, कोटा तीनों मंडल के जोनल पदाधिकारीं सहित शाखा सचिव एवं अध्यक्ष ने भाग लिया। मंडल सचिव ने बताया कि इस विषम परिस्थितियों में अपने व अपने परिवार की जान जोखिम में डालकर भी हमारे रेलकर्मी दिन रात एक कर मालगाड़ी का परिचालन कर रहे हैं, जिससे देश में आवश्यक वस्तुओं का अभाव नहीं हो। जहां सभी कर्मचारी इस विपदा की घड़ी में राष्ट्र के साथ खड़े हैं व एक दिन का वेतन भी अपनी स्वेच्छा से देने को तैयार हैं। बावजूद सरकार ने अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि देने के बजाय नियमित रुप से मिलने वाले महंगाई भत्ते को फ्रीज करने का कार्य किया है जो दुर्भाग्यपूर्ण है। आॅल इंडिया रेल्वे मैन्स फेडरेशन के महामंत्री शिवगोपाल मिश्रा एवं हिन्द मजदूर सभा के महामंत्री हरभजन सिंह ने इस संदर्भ में रेलमंत्री एवं प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर अपना विरोध दर्ज कराते हुए लिखा है कि यह एक अन्याय व अनीतिपूर्ण निर्णय है। इसे तत्काल वापिस लिया जाये अन्यथा रेल कर्मचारी आंदोलन के लिए मजबूर होंगे।

 वेस्ट सेन्ट्रल रेल्वे एम्पलाईज यूनियन के तीनों मंडलों के कर्मचारियों ने डीए फ्रीज करने के विरोध में काली पट्टी बांधकर कार्य करना शुरु कर दिया है। इस अवसर पर प्रशासनिक शाखा के अध्यक्ष सतीश चोहान, सचिव दिनेश त्रिपाठी, आर.के. श्रीवास्तव, नितिन परमार आदि संगठन के कार्यकर्ताओं ने रेल कर्मचारियों को डीए फ्रीज करने के विरोध में प्रथम चरण में एक सप्ताह काली पट्टी बांधकर सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करने को कहा। सभी कर्मचारियों ने एकजुट होकर आंदोलन हेतु अपनी सहमति दी।


 दिनेश त्रिपाठी