ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
विधायक ख़रीद फरोख्त मामला,होटल मराठा में थे मप्र के सात विधायक
March 4, 2020 • Vijay sharma

हॉर्स ट्रेडिंग पर दिल्ली में भिड़े भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेता
देर रात उन्हें हरियाणा सीमा स्थित होटल मानेसर में भेजा 
कांग्रेस के मंत्रियों और भाजपा नेताओं में हुआ विवाद
भोपाल। मध्यप्रदेश के विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में  दिल्ली में  आधी रात खींचतान चलती रही। मंगलवार और बुधवार को आधी रात को दिल्ली के नजदीक हरियाणा स्थित  पांच सितारा होटल मानेसर  में भाजपा व कांग्रेस नेताओं के बीच विवाद की स्थिति निर्मित हो गई ।

दिल्ली स्थित सूत्रों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के कुछ पूर्व मंत्री कांग्रेस के चार बसपा के दो और एक अन्य विधायक के साथ होटल मराठा में ठहरे हुए थे
। 

देर रात पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली पहुंचे तो कांग्रेस और अन्य विधायकों को होटल मराठा से होटल मानेसर में शिफ्ट कर दिया गया। इसकी भनक मुख्यमंत्री कमलनाथ को लगी तो उन्होंने अपने चार मंत्रियों को दिल्ली भेजा और विधायकों को भाजपा के कब्जे से मुक्त कराने की कोशिश की । सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस सरकार के मंत्रियों ने जब विधायकों को छुड़ाने की कोशिश की तो भाजपा के एक पूर्व  मंत्री ने दिल्ली पुलिस बुला ली । इसके बाद मौके पर दिग्विजय सिंह भी पहुंच गए। मामला काफी तूल पकड़ा । सूत्रों का यह भी कहना है कि विवाद के बाद बहुजन समाज पार्टी की विधायक राम बाई कांग्रेसी मंत्रियों के साथ रवाना हो गई। मध्य प्रदेश का यह सियासी ड्रामा दिल्ली में रात भर चलता रहा। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह घटनाक्रम की पुष्टि की और बताया कि राम बाई कांग्रेस के नेताओं के साथ वापस आ गई हैं।